Dil Bechara: आखिरी फिल्म में खुलकर जिंदगी जीने का तरीका सीखा गए सुशांत, रुला देंगे ये कुछ दिल को छू जाने वाले सीन्स…

DIL BECHARA FILM, sushant last movie released

सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म ‘दिल बेचारा’ शुक्रवार रात को OTT प्लेटफॉर्म डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर रिलीज हो गई. सुशांत ने करोड़ों चाहने वाले बेसब्री से इस फिल्म का इंतेजार कर रहे थे. हर कोई इस फिल्म को देखकर इमोशनल हो गया.

सुशांत-संजना की फिल्म ने रिलीज होते ही कई रिकॉर्ड तोड़ दिए. जहां एक ओर फिल्म के रिलीज होते ही हॉटस्टार क्रैश हो गया, वहीं दूसरी ओर फिल्म को IMDB पर 10/10 रेटिंग दे दी गई थी. हालांकि अब ये थोड़ी कम होकर 9.8/10 पर पहुंच गई है.

कुछ ऐसी है फिल्म की कहानी

बात अगर इस मूवी की कहानी की करें तो ये किजी (संजना संघी) और मैनी (सुशांत) की लव स्टोरी पर बेस्ड है. किजी कैंसर का शिकार होती हैं और उनकी लाइफ काफी बोरिंग होती है. लेकिन मैनी की एंट्री होते ही उनकी जिंदगी रंगों से भर जाती है.

यह भी पढ़े: सुशांत ही नहीं इन बॉलीवुड सुपरस्टार्स की फिल्में भी उनकी मौत के बाद हुई हैं रिलीज, जानिए…

मैनी जो एक जिंदादिल इंसान होता है, वो किजी को खुलकर जीने का तरीका सीखा देता है. दोनों देखते ही देखते एक-दूसरे के प्यार में पड़ जाते हैं. फिल्म की एंडिंग काफी इमोशनल हैं, जो हर किसी को रोने को मजबूर कर देती है. आइए हम आपको ‘दिल बेचारा’ की कुछ चीजों के बारे में बतातें हैं जो फिल्म को खास बना देती है-

शुरुआत में सुशांत को किया गया याद

फिल्म की शुरुआत में सुशांत को याद किया गया है. शुरुआत में ही इस सीन को देखकर लोग काफी इमोशनल हो गए. फिल्म के सीन की ये तस्वीर सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही हैं.

किजी-मैनी की दोस्ती और प्यार की कहानी

फिल्म में मैनी (सुशांत) की एंट्री मस्तीभरे अंदाज में होती हैं, जो ये दिखाता है कि वो कितने जिंदादिल इंसान है. सुशांत की एंट्री सीन देखकर लोगों के चेहरे पर मुस्कान आ जाती है. वहीं पूरी फिल्म में सुशांत लोगों को कभी हंसाते तो कभी रुलाते हुए नजर आते हैं.

यह भी पढ़े: ‘Suicide Or Murder’ फिल्म का पहला पोस्टर रिलीज, सुशांत सिंह के इस हमशक्ल को मूवी में मिला लीड रोल

फिल्म में किजी और मैनी की कैमिस्ट्री को काफी पंसद किया जा रहा है. दोनों की दोस्ती और लव स्टोरी के कई सीन्स को काफी खूबसूरती से दिखाया गया है. दोनों मुश्किल से मुश्किल वक्त में एक-दूसरे का साथ नहीं छोड़ते और अंत तक साथ निभाते हैं.

जगदीप संग मैनी की दोस्ती

दिल बेचारा में मैनी के साथ जगदीश पांडे (JP) के साथ दोस्ती भी काफी खास होती है. मैनी रजनीकांत के बहुत बड़े फैन होते है और वो अपने दोस्त के साथ एक भोजपुरी फिल्म बना रहे होते हैं जिसका नाम ‘रजनी आवत है, सपने जगावत है’ होता है. फिल्म के आखिरी सीन में जब जगदीश पांडे मैनी के लिए एक नोट पढ़ते है, वो सीन रूला देने वाला है.

बासु परिवार संग मैनी का बॉन्ड

मूवी में किजी और मैनी की दोस्ती तो कमाल की है ही, इसके साथ ही मैनी की किजी के परिवार के साथ भी रिश्ता काफी खास बन जाता है. कुछ ही समय में मैनी उनके परिवार का हिस्सा बन जाते हैं. जहां एक ओर किजी के पापा के साथ मैनी का बॉन्ड काफी स्पेशल बन जाता है, तो वहीं मां के साथ छोटी-छोटी बातों को लेकर नोकझोंक होती रहती है.

यह भी पढ़े: ‘साथ नहीं सोने पर एक्ट्रेस को रिप्लेस करने वाले डायरेक्टर सुशांत की मौत पर जता रहे दुख’, ऋचा चड्ढा का फूटा गुस्सा

मूवी में हैं कई इमोशनल डॉयलाग

फिल्म में कई ऐसे डॉयलाग है, जिसमें से कुछ जिंदगी जीने का तरीका समझा देते हैं. फिल्म का कई डॉयलाग काफी फेमस हो रहे है, जो ये है- ‘जन्म कब लेना है और मरना कब है ये हम डिसाइड नहीं कर सकते, लेकिन कैसे जीना हैं वो हम डिसाइड कर सकते हैं.’

फैन्स के लिए स्पेशल है फिल्म

सुशांत के तमाम चाहने वालों के लिए ये फिल्म बेहद स्पेशल हैं. जहां सुशांत के फैन्स इस फिल्म को देखने के लिए काफी एक्साइटेड थे, तो वहीं साथ ही उन्हें ये मलाल भी था कि वो इसके बाद अब अपने चहेते सितारे को फिर कभी किसी भी फिल्म में नहीं देख पाएंगे. सुशांत का यूं दुनिया से चले जाना हर किसी के लिए धक्का लगा. सुशांत के फैन्स के लिए ये मानना मुश्किल हो रहा है कि जो अपनी फिल्मों के जरिए दूसरों को जीने का तरीका सिखाते हैं, उसने अचानक अपनी जिंदगी को यूं खत्म कर लिया.

यह भी पढ़े: क्या #Metoo के लगे झूठे आरोपों के बाद डिप्रेशन में आ गए थे सुशांत? एक्ट्रेस संजना ने पूछताछ में किए कई बड़े खुलासे