जानिए कौन थे रूपेश सिंह जिनकी हत्या ने पटना को दहला दिया? क्यों इस मामले को लेकर सियासत गरमाई?

RUPESH SINGH MURDER PATNA

मंगलवार शाम को बिहार की राजधानी पटना रूपेश सिंह हत्याकांड से दहल गई। इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन मैनेजर रूपेश कुमार सिंह की हत्या बीते दिन की गई। इस घटना से हर कोई स्तब्ध है, तो वहीं इसको लेकर राजनीति भी चरम पर पहुंच गई। इस मामले में सीबीआई जांच की मांग भी उठने लगी है। हालांकि रूपेश हत्याकांड की जांच के लिए फिलहाल एसआईटी का गठन किया गया है। कौन थे रूपेश सिंह, क्यों और कैसे उनकी हत्या हुई और इस पर किसने क्या कहा? आइए आपको बताते हैं…

जानें कौन थे रूपेश सिंह?

रूपेश इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन मैनेजर थे। पटना में रूपेश का रुतबा एक सेलिब्रिटी से कम नहीं था। उन्होनें अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर कई जानी-मानी हस्तियों के साथ फोटो भी शेयर की हुई है। वो राजनीति में भी आने का मन बना रहे थे। जानकारी के मुताबिक सोमवार को ही रूपेश परिवार संग गोवा से छुट्टी मनाकर घर लौटे थे।

यह भी पढ़े: पीएम मोदी को भाई मानने वाली और Pak की पोल खोलने वाली करीमा बलूच की मौत, हत्या की जताई जा रही आशंका

कैसे हुई रूपेश सिंह की हत्या?

छुट्टी के बाद काम पर उनका पहला दिन था। मंगलवार को कोरोना वैक्सीन की पहली खेप पटना पहुंची थी, इस दौरान रूपेश भी एयरपोर्ट पर मौजूद थे। वैक्सीन स्पाइस जेट की फ्लाइट से लाई गई, लेकिन इंडिगो के फ्लाइन मैनेजर होने की वजह से वो वहां पर मौजूद रहे। ऐसे में उनकी आखिरी फोटो बिहार के स्वास्थ्य मंगल पांडेय और स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव अमृत के साथ थी, जो तस्वीर अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

मंगलवार को जब रूपेश अपने काम से घर लौटे तो बाहर ही बदमाशों ने उन पर गोलियों से हमला कर दिया। वो जब एयरपोर्ट से घर वापस लौट रहे थे तो बदमाश पहले से ही घात लगाकर बैठे थे। जैसे ही रूपेश की गाड़ी घर के बाहर पहुंची, तो ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी गई। मौके पर ही रूपेश ने दम तोड़ दिया।

यह भी पढ़े: कानपुर: दिवाली के दिन पटाखा लेने गई 6 साल की मासूम की निर्मम हत्या, शरीर से कई अंदरूनी अंग भी गायब

कई नेताओं ने इस मुद्दे को उठाया

रूपेश की मौत ने पटना शहर को हिलाकर रख दिया है। तमाम राजनेताओं ने इस घटना पर प्रतिक्रिया दी और साथ ही साथ नीतीश सरकार को भी घेरा। RJD अध्यक्ष तेजस्वी यादव ने निशाना साधते हुए कहा- ‘सत्ता संरक्षित अपराधियों ने पटना में एयरपोर्ट मैनेजर रूपेश की उनके आवास के बाहर गोलियां मारकर हत्या कर दी। वो मिलनसार और मददगार स्वभाव के धनी थे। उनकी असामयिक मृत्यु से बहुत दुःखी हूं, भगवान उनकी आत्मा को शांति दें।बिहार में अब अपराधी ही सरकार चला रहे है।’

बीजेपी ने अपनी ही सरकार को घेरा

वहीं इसके अलावा बीजेपी नेता ने भी इस मामले को लेकर अपनी ही सरकार पर सवाल उठा दिए। बीजेपी के राज्यसभा सांसद विवेक ठाकुर ने कहा- ‘पटना में इंडिगो स्टेशन हेड रूपेश सिंह जी की हत्या बहुत दुःखद और गंभीर है। शून्य आपराधिक पृष्ठभूमि वाले व्यक्ति की दिन-दहाड़े गोली मारकर हत्या होना दुर्भाग्यपूर्ण है। ये बिहार में एनडीए की नवनिर्वाचित सरकार के लिए चुनौतीपूर्ण स्थिति है। ये घटना बिहार पुलिस पर प्रश्नवाचक चिन्ह है।’ साथ ही उन्होनें वीडियो भी शेयर की, जिसमें कहा कि मामले में 3 से 5 दिनों में पटना पुलिस को सफलता नहीं मिलती, तो इस केस को सीबीआई को दे देना चाहिए।

यह भी पढ़े: J&K: ‘श्मशान घाट ओवरबुक हो जाएंगे’, बीजेपी के तीन नेताओं की हत्या के बाद आतंकियों ने दी ये धमकी

बीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन ने कहा- ‘पटना में इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन मैनेजर रुपेश सिंह की बेरहमी से की गई हत्या से स्तब्ध हूं। वो बहुत ही अच्छे और मिलनसार व्यक्ति थे। पटना आने जाने के दौरान उनसे मुलाकात होती थी। उनकी नृशंस हत्या से बहुत दुख पहुंचा है। पुलिस जल्द से जल्द अपराधियों की तलाश करे और सजा दिलाए।’

CBI जांच की उठी मांग

इसके अलावा जन अधिकारी पार्टी के नेता पप्पू यादव ने घटनास्थल का दौरा भी किया और इस दौरान वो नीतीश सरकार पर जमकर बरसे। उन्होनें कहा- ‘CM आवास से 1 KM दूरी पर पुलिस मुख्यालय और सचिवालय के बगल में इंडिगो एयरलाइंस के अधिकारी रूपेश सिंह की हत्या से साफ है कि बीजेपी-जदयू की सरकार अपराधियों की शागिर्द है। इसे एक मिनट सत्ता में रहना नहीं चाहिए। इस हत्याकांड के सीबीआई जांच का तत्काल आदेश दें CM।’

जानिए पुलिस ने क्या कहा?

इस मामले को लेकर पटना के एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने कहा कि जांच अभी जारी है। उन्होनें कहा कि रूपेश सिंह हत्या मामले में जांच चल रही हैं। शाम को उन पर ताबड़तोड़  गोलियां बरसाई गई, जिसके बार रूपेश को प्राइवेट हॉस्पिटल में लेकर जाया गया। प्रथम दृष्टता से ऐसा लग रहा है कि उनको तीन से ज्यादा गोली मारी गई, लेकिन पूरी तस्वीर पोस्टमार्टम के बाद ही साफ हो पाएगी।’

यह भी पढ़े: लगातार दो हत्याओं से दहशत में था छत्तीसगढ़, GPM पुलिस ने कुछ ही घंटों में सुलझा लिए दोनों केस