ICC के इस फैसले से पाकिस्तानी क्रिकेटरों का खौला गुस्सा, बोले भारत को क्रिकेट बचाने की जरूरत

इस साल कोरोना महामारी का असर खेलों पर काफी देखने को मिला है. इस साल ICC ने जिसके चलते ऑस्ट्रेलिया में होने वाला टी20 वर्ल्ड कप स्थगित कर दिया था. जिसके बाद पाकिस्तानी क्रिकेटर्स भड़क गए हैं.

pakistani cricketers lashes out at ICC

इस साल कोरोना महामारी का असर खेलों पर काफी देखने को मिला है. जिसके चलते ICC ने इस साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाला टी20 वर्ल्ड कप स्थगित कर दिया था. जिसके बाद पाकिस्तानी क्रिकेटर्स भड़क गए हैं. और उन्होंने पाकिस्तानी चैनल पर IPL और BCCI के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली है. बता दें कि इससे पहले एशिया कप को भी स्थगित कर दिया गया था. जिसके बाद IPL का रास्ता साफ़ होता दिख रहा है. इसी बात से पाकिस्तानी क्रिकेटर्स काफी नाराज हैं.

शोएब अख्तर का खौला गुस्सा

पाकिस्तानी के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने इस बारे में कहा है कि BCCI ने आईपीएल की वजह से एशिया कप और टी-20 वर्ल्ड कप को पोस्टपोन करवाया है. उन्होंने आगे कहा BCCI ताकतवर बोर्ड है. वह नहीं चाहता था कि टी-20 वर्ल्ड कप खेला जाए. आईपीएल का आयोजन कराने के लिए एशिया कप और टी-20 वर्ल्ड कप को स्थगित किया गया है. उन्होंने आगे कहा कि एशिया कप और टी-20 वर्ल्ड कप दोनों टूर्नामेंट्स खेले जा सकते थे. बीसीसीआई अपना वर्चस्व साबित करने में माहिर रहा है.

ये भी देखें : पाकिस्तान की हरकतों की खुली पोल! कश्मीर के खिलाफ बोलने के लिए इस ब्रिटिश समूह को दी थी इतने रुपयों की घूस

‘भले ही वर्ल्ड कप भाड़ में जाए’

शोएब अख्तर यहीं नहीं रुके, उन्होंने आगे कहा ताकतवर क्रिकेट बोर्ड अपनी ही चलाता है. आईपीएल को नुकसान नहीं पहुंचना चाहिए, भले ही वर्ल्ड कप भाड़ में जाए. उन्होंने कहा टी-20 वर्ल्ड कप और एशिया कप इस साल खेले जा सकते थे. भारत और पाकिस्तान मैच के लिए अच्छा मौका था, जिसे बर्बाद कर दिया गया. शोएब का कहना है कि भारत को क्रिकेट को बचाने की जरूरत है, नहीं तो ऐसे फैसलों से क्रिकेट का स्तर गिर जाएगा.

ये भी देखें : चीन से गहरे रिश्ते होने के बावजूद पाकिस्तान में PubG गेम बैन! इमरान सरकार ने दी ये सफाई

पाक के पूर्व कप्तान ने भी साधा निशाना

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान राशिद लतीफ़ इस मामले में नाराज दिखे. उन्होंने कहा कि आईसीसी ने टी-20 वर्ल्ड कप स्थगित करने का फैसला इसलिए लिया क्योंकि सभी क्रिकेट बोर्ड इस साल टी-20 वर्ल्ड कप की जगह आइपीएल खेलेंगे तो आर्थिक रूप से ज्यादा फायदा होगा. लतीफ़ बोले कि सभी क्रिकेट बोर्ड इस निर्णय में शामिल थे कि टी-20 वर्ल्ड कप की जगह आइपीएल खेला जाए. टी-20 वर्ल्ड कप फरवरी-मार्च में खेला जा सकता था, लेकिन इससे पीएसएल 2020 प्रभावित होता. इसे अप्रैल-मई में कराया जा सकता था, लेकिन इससे IPL प्रभावित होता. नवंबर-दिसंबर में बिग बैश लीग पर इसका असर पड़ता.