अब पाकिस्तान में आटे को लेकर मची हाई-तौबा, तीन दिनों से भूखे शख्स ने रो-रोककर बताई अपनी आपबीती

pakistan viral video

बात-बात पर भारत को परमाणु हमले की धमकी देने वाले पाकिस्तान के हालात दिन पर दिन खराब होते जा रहे हैं। बढ़ती महंगाई ने लोगों की कमर बुरी तरह से तोड़ कर रख दी है। पड़ोसी मुल्क में महंगाई इस कदर आसमान छू रही हैं कि लोगों को खाने पीने तक की चीजें नहीं मिल पा रही। इन दिनों पाकिस्तान में आटे को लेकर हाहाकार मचा हुआ है।

आसमान छू रही आटे की कीमत

जी हां, पाकिस्तान के कुछ हिस्सों में एक किलोग्राम आते की कीमत 75 रुपये तक पहुंच गई हैं। सिर्फ इतना ही नहीं पाकिस्तान के सिंध समेत कुछ अन्य प्रांतों में तो पैसा देने के बाद भी लोगों को आटा मिल नहीं रहा है। इसके लिए घंटों तक लंबी लाइनों में लगना पड़ रहा है। एक शख्स आटा नहीं मिलने से इतना परेशान हो गया कि वो अपना सिर पीट-पीटकर रोने लगा।

यह भी पढ़े: …तो इस तरह कोरोना पर काबू पा रहा पाकिस्तान, चीन के साथ दोस्ती का उठा रहा खूब फायदा!

‘सूखी रोटी खाने को भी तैयार लेकिन…’

पाकिस्तान के एक शख्स का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा हैं। जिसमें आटा नहीं मिलने की वजह से परेशान व्यक्ति रो-रोकर अपनी आपबीती बता रहा है। ये शख्स वीडियो में कहता नजर आ रहा हैं कि वो तीन दिनों से भूखा हैं और आटे के लिए मारा-मारा फिर रहा हैं।

https://twitter.com/HummaSaif/status/1316112059189297152

वीडियो में व्यक्ति बताते हुए नजर आ रहा हैं कि उसने और उसके परिवार ने तीन दिनों से खाना नहीं खाया। उसने रोते-रोते बताया कि वो तीन दिनों से बच्चों की वजह से दौड़ रहा हैं, लेकिन आटा नहीं मिल रहा। 14 रुपये में एक रोटी मिल रही हैं। शख्स कहता हुआ नजर आ रहा हैं कि हम गरीब लोग हैं, कहां से खाएंगे। आटे के लिए इतने पैसे कहां से लेकर आए, दवाईयां कहां से लाएं। हम लोग सूखी रोटी खाने के लिए भी तैयार हैं, लेकिन वो भी नहीं मिल रही।

यह भी पढ़े: ‘आतंकियों को शहीद बताने वाला पाकिस्तान…’ संयुक्त राष्ट्र में कश्मीर मुद्दा उठाने पर भारत ने पाक को धोया

विपक्ष ने बोला इमरान सरकार पर हमला

आपको बता दें कि पाकिस्तान में गेहूं की कीमत ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। ऐसा पहली बार हुआ हैं जब वहां गेंहू की कीमत 60 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गई है। देश में आटे की किल्लत को लेकर विपक्षी पार्टी गुजरांवाला ने इमरान सरकार के खिलाफ हल्ला बोल दिया हैं। विपक्ष के प्रदर्शन के दौरान इमरान सरकार ने एक्शन लिया और मंगलवार को देश में बढ़ती महंगाई और खाद्यान संकट को काबू में करने के लिए एक व्‍यापक योजना को मंजूरी दी। इसके अलावा इस संबंध में पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री और राष्‍ट्रपति कार्यालय में एक कैंप ऑफिस का भी गठन।

पाकिस्तान में ये संकट कितना गहरा गया हैं, इसका अंदाजा इससे लगाया जा सकता हैं कि लगातार दूसरे दिन महंगाई और खाद्यान संकट को लेकर कैबिनेट ने बैठक की। वहीं इस दौरान भी इमरान सरकार इस संकट का जिम्मा सिंध की सरकार पर फोड़ने की कोशिश कर रही हैं। आपको बता दें कि सिंध में पाकिस्‍तान पीपुल्‍स पार्टी की सरकार है।

यह भी पढ़े: कर्ज में डूबे पाकिस्तान को चुकाना है 5.8 अरब डॉलर का जुर्माना, माफ करने के लिए गिड़गिड़ाया, जानें पूरा मामला?