जानिए रुद्राभिषेक की महिमा से लेकर इससे जुड़ी खास बातें, शिव जी की बनेगी विशेष कृपा

सावन में विशेषतौर पर भगवान शिव की पूजा-अर्चना की जाती है. माना जाता है जो व्यक्ति सचे मन से शिव जी की आराधना करता है, उन पर भगवान शिव की विशेष कृपा होती है, लेकिन क्या आपको इस बारे में जानकारी है कि भगवान शिव अपने भक्तों पर रुद्राभिषेक से बहुत जल्दी प्रसन्न होते हैं. अगर आप शिव जी का सबसे प्रिय रुद्राभिषेक करना भूल गए हैं, तो अभी भी देर नहीं हुई है आप सावन माह में किसी भी दिन या फिर सोमवार के दिन भी रुद्राभिषेक कर सकते हैं, तो आइए आपको रद्राभिषेक की महिमा से लेकर उससे जुड़ी सभी जरूरी बातें बताते हैं…

पुराणों के मुताबिक शिव जी की आरधना करने मानव को अपने कई जन्मों के पुण्य का फल प्राप्त होता है. ज्योतिष की मानें तो जो लोग सावन में महादेव को जल्दी से प्रसन्न करना चाहते हैं उनके लिए रुद्रभिषेक सबसे अचूक उपाय है. बता दें कि शिव और रूद्र एक दूसरे के पर्यायवाची शब्द हैं, रूद्र शिव जी का प्रचंड रूप है. इनकी कृपा जिस पर हो जाए उसका साभी ग्रह बाधाओं और समस्याओं का नाश हो जाता है.

आपको बता दें कि जब शिवलिंग पर मंत्रों के साथ खास तौर पर सभी चीजें चढ़ाईं जाती हैं, तो इस पद्धति को ही रुद्राभिषेक कहा जाता है. जिसमें शुक्ल यजुर्वेद के रुद्राष्टाध्यायी के मंत्रों का खासतौर पर पाठ किया जाता है.

किस शिवलिंग पर करना चाहिए रुद्राभिषेक ?

वैसे तो मंदिर के शिवलिंग पर ही अगर आप रुद्राभिषेक करेंगे तो ऐसा करना बहुत उत्तम होता है, लेकिन अगर आप घर में ही पार्थिव शिवलिंग पर अभिषेक कर सकते हैं. इसके अलावा आप शिवलिंग के अभाव में अंगूठे को भी शिवलिंग मानते हुए अभिषेक कर सकते हैं. शिवलिंग का अभिषेक करने की ये परंपरा बहुत पुरानी है. तो आइए आपको आगे बताते हैं कि रुद्राभिषेक किन-किन चीजों की जरूरत पड़ती है…

कल्याणकारी है रुद्राभिषेक-

  • गाय के दूध से शिवलिंग पर अभिषेक करने से आरोग्य प्राप्त होता है.
  • शिवलिंग पर शहद से अभिषेक करने से हर तरह की बीमारियां सम्पात हो जाती हैं.
  • घी से शिवलिंग का अभिषेक करने से वंश का विस्तार होता है.
  • दूध में शक्कर मिलाकर अभिषेक करने से व्यक्ति विद्वान हो जाता है.

  • संतान की प्राप्ति के लिए जल में शक्कर मिलकर अभिषेक करने चाहिए.
  • भस्म से शिवलिंग का अभिषेक करने से व्यक्ति को मोक्ष की प्राप्त होती है.
  • इक्षुरस से शिवलिंग का अभिषेक करने से व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं.

रुद्रभिषेक कब करना रहता है अच्छा

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक ज्यादातर हर पूजा के लिए एक शुभ मुहूर्त जरूर होता है, ऐसमें आपको तिथियों का खास ध्यान रखना चाहिए, लेकिन सावन के महीने में तो सभी दिन शिव जी की पूजा के लिए शुभ है. माना जाता है कि सावन में रुद्राभिषेक करने से शिव की खास कृपा मिलती है.