‘अब PoK को खाली करने की बारी…’ संयुक्त राष्ट्र में इमरान खान के कश्मीर पर ‘झूठ’ का भारत ने यूं दिया करारा जवाब

india reply to pakistan

पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज आने का नाम नहीं ले रहा. वो बार-बार अंतरराष्ट्रीय मंचों पर भारत के खिलाफ जहर उगल रहा है और कश्मीर राग को अलापकर झूठ फैला रहा है. पड़ोसी देश ने एक बार फिर से ऐसा ही किया. संयुक्त राष्ट्र (UN) की स्थापना के 75 साल पूरे हो गए हैं. इसी बीच संयुक्त राष्ट्र आम सभा (UNGA) की बैठक हो रही थी. बैठक में वर्चुअली दुनिया के कई बड़े नेता शामिल हुए.

पाकिस्तान के झूठ का किया पर्दाफाश

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस बैठक में एक बार फिर से कश्मीर का मुद्दा उठाया, जो भारत को जरा भी पंसद नहीं आया. भारत की ओर से कश्मीर का मुद्दा उठाने के लिए पाकिस्तानी पीएम को करारा जवाब दिया. भारत सरकार की तरफ से मिजितो विनितो (Mijito Vinito) ने कहा कि अब पाकिस्तान को PoK खाली करना होगा.

यह भी पढ़े: ‘आतंकियों को शहीद बताने वाला पाकिस्तान…’ संयुक्त राष्ट्र में कश्मीर मुद्दा उठाने पर भारत ने पाक को धोया

इमरान खान के भाषण के बाद भारत ने राइट टू रिप्लाई का इस्तेमाल कर पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया. भारतीय मिशन के प्रथम सचिव मिजितो विनितो ने कहा कि इमरान खान ने भारत को लेकर जो भी बातें कहीं, उसमें हैरानी की बात ये हैं कि उन्होनें ये सब खुद के बारे में कहा. इस महासभा में पाकिस्तान ने केवल झूठ बोलने के अलावा और कुछ भी नहीं कहा.

आतंक के मुद्दों पर पाकिस्तान को घेरा

मिजितो विनितो ने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपनी संसद में आतंकवादी ओसामा बिन लादेन को ‘शहीद’ बताया. इतना ही नहीं साल 2019 में इमरान ने अमेरिका में इस बात को स्वीकार किया था कि उनके देश 30 से 40 हजार आतंकवादियों को ट्रेनिंग दी गई और इसके बाद उनको भारत और अफगानिस्तान में आतंक फैलाने के लिए भेजा गया. खासतौर पर भारत के जम्मू-कश्मीर में.

मिजितो विनितो ने दो टूक जवाब देते हुए कहा कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और जिन इलाकों पर पाकिस्तान ने अवैध कब्जा (PoK) किया हुआ है, उसे खाली किया जाए.

यह भी पढ़े: विदेशी महिला से गैंगरेप पर पाकिस्तान में बवाल, इमरान खान बोले- रेपिस्ट को दी जानी चाहिए ऐसी सजा जिससे…

उन्होनें पाकिस्तान में अलसंख्यकों पर हो रहे उत्पीड़न के मुद्दे को भी उठाया. मिजितो विनितो ने कहा कि पाकिस्तान में हिंदुओं, ईसाईयों, सिखों और अन्य धार्मिक, नस्लीय समूह के लोगों का सफाया किया जा रहा है. धर्म के अपमान का आरोप लगाकर उनको सजा दी जा रही है और साथ ही जबरन धर्म परिवर्तन भी कराया जा रहा है.

उन्होनें कहा कि पाकिस्तान को अपने नापास एजेंडे के लिए संयुक्त राष्ट्र के मंच का दुरुपयोग करना बंद करना होगा. जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और वहां पर जो भी नियम या कानून लाए जाते है, वो भारत का अंदरूनी मामला है.

इमरान के बयान से किया वॉक आउट

आपको बता दें कि UNGC के 75वें सत्र में पाकिस्तानी पीएम इमरान खान ने पहले से रिकॉर्ड किए वीडियो संबोधन में जम्मू-कश्मीर के अलावा भारत के कई आतंरिक मामलों का जिक्र किया. इमरान खान ने जैसे ही अपने संबोधन में भारत का जिक्र किया, वैसे ही संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन के प्रथम सचिव मिजितो विनितो महासभा हॉल से बाहर चले गए.

यह भी पढ़े: चीन की चापलूसी करना पाकिस्तान को पड़ा भारी, भारत के खिलाफ ये फर्जी खबर फैलाने पर बुरी तरह हुआ ट्रोल