भारत के युवाओं को गांजे के नशे ने जकड़ा! जानिए देश में कैसे बढ़ता ही चला जा रहा इसका चलन?

ganja consumption in india

अभी हाल ही में कॉमेडियन भारती सिंह और उनके पति को गांजा रखने और उसका सेवन करने के मामले में नारकोटिक्स विभाग ने गिरफ्तार कर लिया था। लेकिन भारत में केवल शहरी ही नहीं बल्कि ग्रामीण इलाकों में नशा करने के लिए सबसे ज्यादा लोग गांजा का सेवन करते है। क्या आप जानते है कि साल 1985 से पहले तो भारत में गांजा का सेवन लीगल था, लेकिन 1985 में इसे अवैध कर दिया गया।

भारत में बैन है गांजा

इसे रखने या इसका सेवन करते हुए अगर कोई पकड़ा जाता है, तो उस पर कानूनी कार्रवाई होती है। हालांकि गांजा कई देशों में मेडिकल यूज के लिए लीगल है, लेकिन भारत में दवा बनाने के लिए भी गांजे का इस्तेमाल लीगल नहीं है। जब भारत में राजीव गांधी पीएम बने तो उनकी सरकार में पहली बार नारकोटिक्स ड्रग एंड साइकोट्रोपिक सब्स्टेंसेस एक्ट के तहत गांजा को गैर कानूनी घोषित करने का कानून बनाया गया।

यह भी पढ़े: अगर आपको भी रहती हैं लो ब्लड प्रेशर की समस्या, तो जरूर अपनाकर देखें ये 10 घरेलू उपाय…

आसानी से भारत में मिलता है गांजा

अक्सर नशा करने वाले लोगों को आपने गांजे की जगह माल शब्द का इस्तेमाल करते देखा होगा। भारत में गांजा लीगल नहीं है लेकिन फिर भी इसकी खेती होती है। ये आसानी से लोगों तक पहुंच जाता है। सीमा पर चेकिंग के बावजूद भी ये एक सीमा से दूसरी सीमा आसानी से पहुंच जाता है। एक रिपोर्ट के मुताबिक गांजा हर छोटा से छोटा ड्रग पैडलर रखता है और इनके पास कम से कम 4 से 5 किलो तक गांजा होता ही है।

भारत में युवा पीढ़ी में गांजे का चलन बढ़ रहा है। अक्सर लोगों का कहना है कि इसकी लत नहीं लगती है, लेकिन कोलंबिया यूनिवर्सिटी की एक रिपोर्ट के मुताबिक जो लोग गांजा लेते है उन्हें कई तरह से मनोविकार हो सकते है। गांजा पीने वालों के ह्रदय की गति भी बढ़ गई थीं। जिन लोगों को गांजे की लत होती है, वो इस समय में गांजा न मिलने पर बैचेन होने लगते है। गांजा का सेवन करने से लोगों की सही सोचने और अनुभव करने की क्षमता भंग होने लगी थी।

यह भी पढ़े: वो ड्रग जिसकी सुशांत को डोज देने का रिया पर जताया जा रहा शक, जानें कितने घातक हो सकते हैं परिणाम ?

इन देशों में हैं लीगल

कम उम्र के बच्चों के गांजा लेने के कारण इनका पूरा मस्तिष्क विकास नहीं हुआ। भारत में गांजे का चलन विदेशी देशों से बढ़ा जहां गांजा लीगल है। अमेरिका, कनाडा, कोलंबिया, इजरायल, इटली, पेरू, पौलेंड जैसे अनगिनत देश ऐसे है जहां गांजे का सेवन लीगल है। मगर फिर भी भारत में इन देशों से कई प्रतिशत ज्यादा गांजे का इस्तेमाल हो रहा है। गांजे की चेकिंग के लिए कानून भी सख्ती से पेश नहीं आता, जो सबसे ज्यादा चिंता की बात है। गांजा धीरे धीरे युवाओं को अंधेरे में ले जा रहा है, लेकिन अब देखना ये है कि इस पर कानून कब तक सख्त होता है।

यह भी पढ़े: 30 हजार रुपये में बिकने वाली भारत की इस सब्जी की है विदेशों में काफी डिमांड, पीएम मोदी भी करते हैं खूब पसंद!