500 टेस्ट विकेट लेने वाले 7 वें गेंदबाज बने स्टुअर्ट ब्रॉड, जानें पहले 6 पर कौन?

England Vs West Indies test Series, Stuart Broad 500 test wickets

कोरोना वायरस महामारी के बीच इंग्लैंड में हुए तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड की टीम ने वेस्टइंडीज को 2-1 से करारी शिकस्त दी। इंग्लैंड की टीम ने 269 रनों के बड़े अंतर से वेस्टइंडीज को मात दी। तीसरे और निर्णायक मुकाबले के अंतिम दिन इंग्लैंड के स्टार तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड अपने हमवतन तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन के क्लब में शामिल हो गए हैं। बल्लेबाजों के पसीनें छुड़ाने वाले स्टुअर्ड ब्रॉड तीसरे टेस्ट में बड़ी उपलब्धि हासिल करते हुए टेस्ट क्रिकेट में 500 विकेट लेने वाले दुनिया के 7 वें गेंदबाज बन गए हैं। इसके साथ ही वे इंग्लैंड क्रिकेट के इतिहास में 500 टेस्ट विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज भी बन गए है।

इसे भी पढ़े- लॉकडाउन में इस वजह से भज्जी का दिमाग हुआ स्पिन! सोशल मीडिया पर फूटा गुस्सा

ब्रेथवेट को आउड कर पूरे किए 500 विकेट

इससे पहले इंग्लैंड की ओर से स्टुअर्ड ब्रॉड के साथी गेंदबाज जेम्स एंडरसन साल 2017 में ही यह कारनामा कर चुके हैं। साल 2017 में उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मैच में 500 टेस्ट विकेट लेने का रिकार्ड बनाया था। वहीं, साल 2020 में स्टुअर्ड ब्रॉड ने वेस्टइंडीज के खिलाफ ही मैनचेस्टर टेस्ट के पांचवे और आखिरी दिन वेस्टइंडीज के धाकड़ बल्लेबाज क्रेग ब्रेथवेट को आउट कर टेस्ट क्रिकेट में अपने 500 विकेट पूरे किए।

दरअसल, 3 मैंचों के टेस्ट सीरीज की शुरुआत 8 जुलाई से हुई थी। साउथैम्पटन में हुए पहले मैच में वेस्टइंडीज की टीम ने चार विकेट से जीत हासिल की थी और सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली थी। लेकिन दूसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने वेस्टइंडीज को 113 रनों से करारी शिकस्त दी और सीरीज को 1-1 से बराबर कर दिया। जिसके बाद निर्णायक और तीसरे टेस्ट मैच में भी वेस्टइंडीज की टीम प्रभावी बैटिंग नहीं कर पाई, दोनों ही पारियों में इंग्लिश गेंदबाज वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों पर हावी रहे। नतीजतन वेस्टइंडीज की टीम यह मैच 269 रनों के बड़े अंतर से हार गई। इसके साथ ही इंग्लैंड की सरजमीं पर वेस्टइंडीज की टीम इतिहास रचने से भी चूक गई।

इसे भी पढ़े- ICC के इस फैसले से पाकिस्तानी क्रिकेटरों का खौला गुस्सा, बोले भारत को क्रिकेट बचाने की जरूरत

मैच में 10 विकेट लेने वाले चौथे तेज गेंदबाज बने ब्रॉड

वेस्टइंडीज की टीम साल 1988 के बाद से ही इंग्लैंड में एक भी टेस्ट सीरीज नहीं जीत पाई है। हालांकि, इस सीरीज के पहले मैच में जबरदस्त प्रदर्शन के बाद ऐसी उम्मीद लगाई जा रही थी कि वेस्टइंडीज की टीम सीरीज अपने नाम करेगी लेकिन तीसरे मैच में इंग्लिश गेंदबाज वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों पर पूरी तरह से हावी हो गए। इंग्लैंड की ओर से क्रिस वोक्स ने 5 विकेट चटकाएं। लेकिन इस निर्णायक मुकाबले के हीरो स्टुअर्ट ब्रॉड रहे। उन्होंने दोनों पारियों को मिलाकर कुल 10 विकेट चटकाए। ऐसा करने वाले वे दुनिया के चौथे तेज गेंदबाज बन गए हैं। इससे पहले ग्लेन मैकग्रा, जेम्स एंडरसन और कर्टनी वाल्श ये कारनामा कर चुके हैं।

इसे भी पढ़े- भारत के बाहर होगा IPL-13 का आयोजन! BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ने दिए संकेत

मुरलीधरन के नाम है सबसे ज्यादा विकेट

वहीं, दूसरी ओर 500 टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाजों की श्रेणी में ब्रॉड 7 वें स्थान पर पहुंच गए हैं। ब्रॉड से पहले मुथैया मुरलीधरन (800), शेन वॉर्न (700), अनिल कुंबले (619), जेम्स एंडरसन (589), ग्लेन मैकग्रा (563) और कर्टनी वाल्श (519) ने टेस्ट मैचों में 500 से अधिक विकेट लिए हैं। वेस्टइंडीज के दिग्गज तेज गेंदबाज कॉर्टनी वाल्श टेस्ट क्रिकेट में 500 विकेट लेने वाले पहले गेंदबाज थे।

इसे भी पढ़े- Eng vs WI: कोरोना काल में मैच के दौरान इंग्लैंड के खिलाड़ी ने कर दी बड़ी गलती, मिली ये सजा!