‘बुरहान वानी-कसाब भी तो 21 के थे’, दिशा रवि की गिरफ्तारी पर छिड़ी बहस, जानिए किसने क्या कहा?

disha ravi arrest issue

क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि की गिरफ्तारी का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। 21 साल की दिशा को टूलकिट मामले को लेकर गिरफ्तार किया गया। दरअसल, बीते दिनों ग्रेटा थनबर्ग ने एक टूलकिट अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर की थी, जिसमें किसान आंदोलन की आड़ में भारत के खिलाफ प्रोपेगेंडा चलाने की साजिश से पर्दा हटा था। इसके बाद पुलिस ने इस टूलकिट की जांच की और अब इस मामले में एक गिरफ्तारी दिशा रवि की हुई है।

ट्विटर पर तूल पकड़ रहा मामला

दिल्ली पुलिस ने बेंगलुरु से एक्टिविस्ट दिशा रवि को गिरफ्तार किया और फिर दिल्ली की एक कोर्ट में पेश किया। दिशा को 5 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। वहीं ये मामला सोशल मीडिया पर सुर्खियों में आ गया। दरअसल, जहां एक ओर तो कुछ लोग दिशा की गिरफ्तारी को सही बता रहे है। वहीं ट्विटर पर एक तबका ऐसा भी है, जो इसके विरोध में है।

यह भी पढ़े: कौन हैं दिशा रवि, जिनकी गिरफ्तारी का हो रहा विरोध? क्या है टूलकिट से जुड़ा पूरा विवाद? यहां जानिए सबकुछ…

दिशा की गिरफ्तारी का हो रहा विरोध

इसी वजह से सोशल मीडिया पर दिशा को रिहा करने की मांग उठने लगी है। जिसमें कई नेताओं से लेकर सेलब्रिटीज तक कई लोगों ने दिशा को रिहा करने के लिए अपनी आवाज उठाई। वहीं इस पूरे मामले को लेकर राजनीति भी गर्मा रही है। दिशा को गिरफ्तार करने को लेकर जहां विपक्षी पार्टियां सरकार को घेरती नजर आ रही है। वहीं बीजेपी की ओर से भी इस पर करारा जवाब दिया जा रहा है।

विपक्षी पार्टियों ने सरकार को घेरा

कांग्रेस के कई नेताओं प्रियंका गांधी वाड्रा, शशि थरूर और कपिल सिब्बल ने दिशा की गिरफ्तारी का विरोध किया। इसके अलावा DMK और आम आदमी पार्टी ने भी इसको लेकर केंद्र को घेरा। इस दौरान जहां विपक्षी नेता ये कहते नजर आए कि दिशा की उम्र का तर्क देते हुए नजर आए। तो वहीं बीजेपी ने कुछ आतंकियों और उनकी उम्र बताते हुए विपक्ष पर पलटवार किया। दिशा की गिरफ्तारी पर किसका क्या कहना है, आइए आपको बताते हैं…

यह भी पढ़े: 26 जनवरी को डिजिटल स्ट्राइक, 4-5 फरवरी को ट्विटर पर तूफान…किसान आंदोलन के नाम पर विदेशी प्रोपगेंडा की खुली पोल!

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इस पर लिखा- ‘बोल की लब आजाद हैं तेरे, बोल की सच जिंदा है अब तक। वो डरे हैं, देश नहीं। भारत को चुप नहीं कराया जा सकता।’ वहीं प्रियंका गांधी ने दिशा की गिरफ्तारी को लेकर सरकार पर हमला बोलते हुए कहा- ‘डरते हैं बंदूकों वाले एक निहत्थी लड़की से, फैले हैं हिम्मत के उजाले एक निहत्थी लड़की से।’ ऐसे ही कई कांग्रेसी नेताओं ने दिशा की गिरफ्तारी को लेकर सरकार को घेरा।

वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसे ‘लोकतंत्र पर हमला’ बताया। केजरीवाल ने कहा- ’21 साल की दिशा राव की गिरफ्तारी लोकतंत्र पर एक अभूतपूर्व हमला है। हमारे किसानों का समर्थन करना कोई अपराध नहीं।’

यह भी पढ़े: क्या है ग्रेटा की टूलकिट के पीछे खालिस्तानी कनेक्शन? कनाडा की इस संस्था का नाम आया सामने, जानें पूरा मामला….

विपक्षियों पर बीजेपी का पलटवार

विपक्षी पार्टियों के इन हमलों पर बीजेपी भी जवाब देती हुई नजर आ रही हैं। बीजेपी सांसद पीसी मोहन ने विपक्ष पर पलटवार करते हुए एक ट्वीट किया। उन्होनें लिखा- ‘बुरहान वानी 21 साल का था। अजमल कसाब 21 साल का था। उम्र सिर्फ एक संख्या है। कानून से ऊपर कोई नहीं है। कानून अपना रास्ता खुद बनाएगा। एक अपराध एक अपराध है।’

वहीं इस पर हरियाणा के मंत्री अनिल विज ने कहा कि देश विरोध का बीज जिसके भी दिमाग में हो उसका समूल नाश कर देना चाहिए फिर चाहे वो दिशा रवि हो या कोई और।गौरतलब है कि सोशल मीडिया पर दिशा रवि की गिरफ्तारी मामले ने तूल पकड़ा हुआ है। लोग इस पर अपनी अपनी प्रतिक्रिया देते हुए नजर आ रहे हैं। इसको लेकर सोशल मीडिया दो हिस्सों में बंटा हुआ है।

यह भी पढ़े: सेलिब्रिटिज के ट्वीट की जांच पर महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष का बयान, कहा- बीजेपी को सता रहा पोल खुलने का डर