इस दिन झाड़ू खरीदने और लगाने पर रातों-रात चमक सकती है आपकी किस्मत, मां लक्ष्मी की बनेगी विशेष कृपा

हिन्दू धर्म में झाड़ू को मां लक्ष्मी का रूप माना जाता है. इसलिए ज्यादातर घरों में झाड़ू का काफी आदर भी किया जाता है, ऐसा कहा जाता है कि जिस घर में झाड़ू का अपमान होता है उस घर में मां लक्ष्मी का अपमान माना जाता है. जिस घर में सुबह के 5 बजे और शाम के 5 बजे से पहले झाड़ू लगती है, उस घर में सदैव मां लक्ष्मी का वास रहता है. इतना ही नहीं जिस घर में झाड़ू हर किसी की नजर से दूर छुपाकर रखी जाती है. उनके घर में कभी भी धन की कमी नहीं होती है.

आपको बता दें कि गलती से भी कभी झाड़ू पर पैर नहीं लगाना चाहिए, ऐसा करना भी मां लक्ष्मी का अपमान माना जाता है, ऐसा करने से आपको घर में कई तरह की आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. इतना ही नहीं जिस अलमारी या तिजोरी में आप पैसा या अन्य कीमती चीज रखते हैं तो उसके पास कभी भी झाड़ू नहीं रखनी चाहिए, वरना आपको धन हानि हो सकती है. जैसे हिन्दू शास्त्र में घर में झाड़ू लगाने का समय बताया गया है वैसे ही पुरानी झाड़ू खराब होने पर नई झाड़ू लगाने के लिए उचित दिन बताया गया है. इसके अलावा नई झाड़ू खरीदने के लिए भी उचित दिन बताया गया है तो आइए आपको बताते हैं…

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में नई झाड़ू को शुक्रवार के दिन खरीदना चाहिए, इससे घर में मां लक्ष्मी का भी वास होता है, वहीं पुरानी झाड़ू को बदलकर नई झाड़ू का प्रयोग करने के लिए शनिवार का दिन बेहद शुभ माना जाता है. इसके अलावा कृष्णपक्ष में भी नई झाड़ू खरीदना शुभ माना जाता है, जबकि शुक्लपक्ष में झाड़ू खरीदने से आपको कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. इसलिए ध्यान रहे गलती से भी शुक्लपक्ष में झाड़ू नहीं खरीदें.

आपको जानकारी के लिए बता दें कि कभी भी टूटी हुई झाड़ू का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, अक्सर कई लोग झाड़ू टूट जाने के बाद भी उसे जोड़-तोड़ के अपने घर या दफ्तर में इस तरह की झाड़ू का प्रयोग करते हैं, लेकिन ऐसा करना वास्तु की दृष्टि से बिल्कुल गलत है. जैसे ही आपकी झाड़ू टूट जाती है उसे तुरंत बदल देना चाहिए, क्योंकि घर की सफाई टूटी हुई झाडू से करने पर आपको कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.