Bigg Boss में जाकर बुरीं फंसी गई राधे मां, अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने ले लिया ये बड़ा एक्शन

radhe maa bigg boss

खुद को भगवान घोषित कर चुकी विवादित महिला धर्मगुरु राधे मां की अब पहले से ज्यादा किरकिरी शुरू हो गई है। बिग बॉस के घर में एंट्री करने वाले राधे मां के वीडियो को लेकर संतों की सबसे बड़ी संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की तरफ से नाराजगी जाहिर की गई है। राधे मां से अब अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने किनारा कर लिया है और कहा है कि साधु-सतों की मान मर्यादा को राधे मां ने ठेस पहुंचाई है।

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष है महंत नरेंद्र गिरी जी ने राधे मां को लेकर बयान दिया है कि ‘राधे मां का फिलहाल किसी भी अखाड़े से कोई संबंध नहीं है। वो न तो संन्यासी हैं और न तो साध्वी। सनातन धर्म के प्रचार और प्रसार के लिए पूर्व में जूना अखाड़े ने उन्हें महामंडलेश्वर की पदवी दी तो थी लेकिन फिर उनके बारे में सच्चाई का पता लगने के बाद जूना अखाड़े ने भी उन्हें निष्कासित कर दिया।’

यह भी पढ़े: Bigg Boss 14: काफी अलग है बिग बॉस का ये सीजन, मेकर्स लाए कई ‘अनोखे’ ट्विस्ट

महंत नरेंद्र गिरी का कहना है कि धर्म, धर्म ग्रंथों के बारे में राधे मां को कोई जानकारी नहीं। वो बस गाना और नाचना जानती है और किसी भी तरह से ये चीजें उन्हें धार्मिक तो बिल्कुल भी नहीं बनातीं। गिरी ने आगे लोगों से अपील कि वे राधे मां को साधु संतों के साथ न जोड़ें। उनका कहना है कि किसी भी शो को ज्वाइन करने के लिए राधे मां पूरी तरह से स्वतंत्र थीं ये उनकी निजी पसंद थी।

उन्होंने हिदायत दी है कि हमारी परंपरा या सनातन धर्म से अगर जुड़ा कोई व्यक्ति ऐसा काम करें जो हमारी परंपरा के खिलाफ हो तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। राधे मां कोई साधू या संत नहीं ऐसे में उन्हें उस श्रेणी में न देखे। धर्म की रक्षा के लिए ही तेरह अखाड़े बनाए गए हैं और सब इसके लिए कटिबद्ध है।

यह भी पढ़े: Bigg Boss 14: सिर्फ सलमान खान ही नहीं, इस बार शो का हिस्सा बनने के लिए ये सितारे भी ले रहे हैं तगड़ी रकम!

आपको बता दें कि कलर्स चैनल की तरफ से बिग बॉस के घर में राधे मां की हाल ही एंट्री का वीडियो साझा किया गया। जिसके बाद राधे मां बतौर कंटेस्टेंट रिएलिटी शो में आएगी, इस तरह के कयास लगाए जा रहे थे। फिर सलमान खान ने शो के प्रीमियर पर बताया कि सिर्फ घरवालों को अपना आशीर्वाद देने राधे मां आई थीं। हालांकि देखने वाली बात ये है कि इन सब की वजह से राधे मां की खासा किरकिरी हुई है। साधु संतों की तरफ से भी उन्हें कुछ अच्छी बातें सुनने को नहीं मिल रही हैं।

यह भी पढ़े: कोरोना काल में बदल जाएगा थिएटर्स में फिल्म देखने का Experience, जानें किन नियमों का करना होगा पालन?